वाराणसी : बिजलीकर्मियों ने निजीकरण के विरोध में मीटिंग कर बनाई आन्दोलन की रणनीति - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 26 July 2020

वाराणसी : बिजलीकर्मियों ने निजीकरण के विरोध में मीटिंग कर बनाई आन्दोलन की रणनीति

कैलाश सिंह विकास

 बिजलीकर्मियों ने निजीकरण के विरोध में मीटिंग कर बनाई आन्दोलन की रणनीति
 
वाराणसी-26जुलाई ।पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के निजीकरण के प्रस्ताव का संज्ञान लेकर विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति की पूर्वांचल कमेटी की आज गूगल मीट के माध्यम से पूर्वांचल संयोजक की अध्यक्षता में  दोबारा बैठक की गई l बैठक में मार्गदर्शक गण के साथ-साथ सभी घटक संघों के सम्मानित पदाधिकारी मौजूद रहे l
   सरकार द्वारा निजीकरण के लिए किए जा रहे कुचक्र से निपटने के लिए बैठक में विस्तृत रूप से चर्चा की गई तथा  जल्द ही एक व्यापक आंदोलन की रूपरेखा तैयार करते हुए एवं आंदोलन का कार्यक्रम निर्धारित करते हुए  निर्णय लिया गया कि  मंगलवार को प्रबन्ध निदेशक पूर्वांचल विधुत वितरण निगम लि0, वाराणसी को ज्ञापन देकर करेंगे आंदोलन की शुरुआत ।
   पदाधिकारियो ने यह भी चेताया कि प्रबन्धन द्वारा इस महामारी के समय निजीकरण का मुद्दा उठाना बिजलीकर्मियों से ही नही बल्कि आमजनता से भी छलावा है जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा ।
     निजीकरण किसी भी समस्या का समाधान नहीं है l निजीकरण आने वाले समय में किसानों, मजदूरों, आम जनमानस और मध्यमवर्गीय लोगों के लिए सबसे बड़े दुःख का  कारण बनने वाला है l
     बैठक में प्रमुख रूप से इंजी. मायाशंकर तिवारी, श्री ए के श्रीवास्तव, इंजी. नीरज बिंद, इंजी. संजय कुमार भारती, इंजी. राजेंद्र सिंह, इंजी. सुनील कुमार यादव, इंजी. अंकुर पाण्डेय,जीउत लाल, रमन श्रीवास्तव, अनिल कुमार, निखिल श्रीवास्तव,  वीरेंद्र सिंह ,आदि लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए तथा बैठक की अध्यक्षता इंजी. चंद्रशेखर चौरसिया जी ने किया|

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।