इस बार 165 साल बाद एक अद्भुत संयोग - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 1 September 2020

इस बार 165 साल बाद एक अद्भुत संयोग

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

इस बार 165 साल बाद एक अद्भुत संयोग 


हर साल पितृ अमावस्या के खत्म होते ही अगले दिन से शारदीय नवरात्र शुरू हो जाते हैं लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। इस बार 165 साल बाद एक अद्भुत संयोग बन रहा है। इस बार पितृ पक्ष की समाप्ति के ठीक अगले दिन से शारदीय नवरात्र शुरू नहीं होंगे, बल्कि पितृ पक्ष की समाप्ति के एक महीने बाद नवरात्रों की शुरुआत होगी। 
अश्विनी माह में श्राद्ध पक्ष  दो सितंबर से शुरू होकर 17 सितंबर तक रहेंगे। इस बार श्राद्ध पक्ष के समाप्त होते ही अधिकमास लग रहा है जो 16 अक्टूबर तक चलेंगे। नवरात्र इस बार 17 अक्तूबर से शुरू हो रहे हैं। अधिकमास लगने से इस बार नवरात्र और पितृपक्ष के बीच एक महीने का अंतर रहेगा। आश्विन मास में मलमास लगना और एक महीने के अंतर पर दुर्गा पूजा का आरंभ होना, ये ऐसा संयोग है जो करीब 165 साल बाद एक बार फिर बन रहा है।

पौराणिक मान्यता के अनुसार मलिनमास होने के कारण कोई भी देवता इस माह में अपनी पूजा नहीं करवाना चाहते थे। कोई भी इस माह के देवता नहीं बनना चाहते थे। तब मलमास ने श्रीहरि से खुद को स्वीकार करने का निवेदन किया। तब श्रीहरि ने इस महीने को अपना नाम दिया पुरुषोत्तम। तभी से मलमास को पुरुषोत्तम मास भी कहा जाता है। इस महीने में भागवत कथा सुनने, प्रात: स्नान के बाद पूजा, दान, पुण्य करने से मोक्ष के द्वार खुलते हैं।

पंचांग के अनुसार इस साल पितृपक्ष के श्राद्ध दो सितंबर से आरंभ होंगे। 17 सितंबर को पितृपक्ष पूरा होगा। पितृपक्ष के दूसरे दिन की प्रतिपदा से ही नवरात्रि आरंभ हो जाता है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। पितृपक्ष के अगले दिन अधिकमास शुरू हो जाएगा। अधिक मास 16 अक्तूबर तक चलेगा। इसके बाद 17 अक्तूबर से मां दुर्गा की नौ दिवसीय आराधना का नवरात्रि व्रत शुरू होगा।
नवरात्रि दिन 1: प्रतिपदा माँ शैलपुत्री पूजा घटस्थापना 17 अक्टूबर 2020(शनिवार)
नवरात्रि दिन 2: द्वितीया माँ ब्रह्मचारिणी पूजा 18 अक्टूबर 2020 (रविवार)
नवरात्रि दिन 3: तृतीय माँ चंद्रघंटा पूजा 19 अक्टूबर 2020 (सोमवार)
नवरात्रि दिन 4: चतुर्थी माँ कुष्मांडा पूजा 20 अक्टूबर 2020 (मंगलवार)
नवरात्रि दिन 5: पंचमी माँ स्कंदमाता पूजा 21 अक्टूबर 2020 (बुधवार)
नवरात्रि दिन 6: षष्ठी माँ कात्यायनी पूजा 22 अक्टूबर 2020 (गुरुवार)
नवरात्रि दिन 7: सप्तमी माँ कालरात्रि पूजा 23 अक्टूबर 2020 (शुक्रवार)
नवरात्रि दिन 8: अष्टमी माँ महागौरी दुर्गा महा नवमी पूजा दुर्गा महा अष्टमी पूजा 24 अक्टूबर 2020 (शनिवार)
नवरात्रि दिन 9: नवमी माँ सिद्धिदात्री नवरात्रि पारणा विजय दशमी 25 अक्टूबर 2020 (रविवार)
नवरात्रि दिन 10: दशमी दुर्गा विसर्जन 26 अक्टूबर 2020 (सोमवार)

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।