अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के भारत बंद के समर्थन में उतरा ट्रेड यूनियन, सौंपा मांग पत्र - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 26 September 2020

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के भारत बंद के समर्थन में उतरा ट्रेड यूनियन, सौंपा मांग पत्र

राकेश सिंह गोण्डा 

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के भारत बंद के समर्थन में उतरा ट्रेड यूनियन,  सौंपा मांग पत्र

गोंडा मंडल केंद्र में भाजपा सरकार द्वारा  कृषि व आवश्यक वस्तु संबंधी तीन बिलों के विरोध में व किसानों के अन्य समस्याओं को लेकर ट्रेड यूनियनों की आयोजन समिति देवीपाटन मंडल गोंडा के पदाधिकारियों ने अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति  के भारत बंद के समर्थन में महामहिम राष्ट्रपति महोदय को सम्बोधित दस सूत्री मांगपत्र अतिरिक्त मजिस्ट्रेट महेंद्र कुमार को सौंपा। दिये गये मांगपत्र में कृषि संबंधित तीनों बिल कृषि उपज, वाणिज्य एवं व्यापार संवर्धन और सुविधा अध्यादेश 2020, मूल्य आश्वासन पर बंदोबस्ती और सुरक्षा समझौता कृषि सेवा अध्यादेश 2020, आवश्यक वस्तु अधिनियम संशोधन 2020 पर हस्ताक्षर ना करके इन्हें वापस लेने के लिए केंद्र सरकार को निर्देशित करने, कारपोरेट परस्त जनविरोधी बिजली सुधार कानून को वापस लिये जाने, किसानों को उनकी फसलों की लागत का डेढ़ गुना मूल्य दिये जाने,न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम पर फसलों को खरीदे जाने को अपराध की श्रेणी में रखे जाने,बँटाईदार किसानों व ठेके पर खेती कर रहे किसानों को किसान का दर्जा देते हुये किसानों को मिल रही सुबिधा उन्हे भी उपलब्ध कराने, कृषि उत्पाद के क्षेत्र में देशी विदेशी कारपोरेट के दखल पर रोक लगाने के लिये कानून बनाये जाने,किसानों का संपूर्ण कर्ज माफ किये जाने की मांग शामिल है। इस मौके पर एटक के कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष कामरेड सत्यनारायण त्रिपाठी, सीआईटीयू के राज्य कमेटी सदस्य कामरेड कौशलेंद्र पाण्डेय,एटक के जिला सचिव ईश्वरशरण शुक्ल,सुरेश कनौजिया  देवी पाटन मंडल अध्यक्ष गोण्डा ,मंजीत सिंह, बजरंगी पाण्डेय शिव कुमार कनौंजिया आदि उपस्थिति रहे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।