70 सहायक शिक्षकों के अवकाश के लिए शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने बीएसए अमेठी को दिया ज्ञापन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 27 March 2021

70 सहायक शिक्षकों के अवकाश के लिए शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने बीएसए अमेठी को दिया ज्ञापन

मयंक पाण्डेय अमेठी

 70 सहायक शिक्षकों के अवकाश के लिए शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने बीएसए अमेठी को दिया ज्ञापन


अमेठी। अंतर्जनपदीय पारस्परिक स्थानांतरण से अमेठी जनपद में आए 70 शिक्षकों द्वारा बी एस ए कार्यालय गौरीगंज जनपद अमेठी में उपस्थित के लिए रजिस्टर में हस्ताक्षर कराया जा रहा है ।जबकि स्कूलों में तैनात शिक्षकों का अवकाश शासन के द्वारा होली के मद्देनजर 25 मार्च से 31 मार्च तक अवकाश घोषित कर दिया गया है ।इस अवकाश का लाभ अंतर्जनपदीय स्थानांतरण से अमेठी जनपद में आए शिक्षकों को नहीं मिल रहा है। जिससे शिक्षकों में काफी आक्रोश है ।शिक्षक उपस्थिति दर्ज कराने के लिए प्रतिदिन 50 से 60 किलोमीटर की दूरी तय करते हैं। अंतर्जनपदीय पारस्परिक स्थानांतरण में आए शिक्षकों को अवकाश दिलाने के लिए प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष अशोक कुमार मिश्रा ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अमेठी विनोद कुमार मिश्र को ज्ञापन दिया तथा उन से अनुरोध किया कि बीएसए कार्यालय से संबंध शिक्षकों को होली का अवकाश दिया जाए ।जिससे वह अपने परिवार के साथ होली मना सकें । पारस्परिक अंतर्जनपदीय स्थानांतरण से आए 70 शिक्षकों को इससे लाभ मिल सकता है।
   इस ज्ञापन के बारे में बीएसए कार्यालय द्वारा अवकाश की कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई है। इसके बारे में शिक्षक संघ के अध्यक्ष अशोक कुमार मिश्र का कहना है। मैं शिक्षकों को होली पर अवकाश  दिलाने के लिए प्रयासरत  हूँ।यदि बीएस ए अमेठी  द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जाती तो मैं प्रदेश कार्यकारिणी को इसके बारे में अवगत करा कर अवकाश दिलाने के लिए प्रतिवद्ध रहूँगा।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।