बिहार में पत्रकार पर कराया गया एफ आई आर , पत्रकार एसोसिएशन ने किया निंदा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 29 May 2021

बिहार में पत्रकार पर कराया गया एफ आई आर , पत्रकार एसोसिएशन ने किया निंदा

कृपा शंकर चौधरी

बिहार में  पत्रकार पर कराया गया एफ आई आर 

पत्रकार एसोसिएशन ने कहा चौथे स्तंभ को अप्रत्यक्ष रूप से धमकाने का है प्रयास


बिहार। बक्सर प्रेस क्लब एवं न्यूज़ पोर्टल एसोसिएशन की वर्चुअल बैठक में बक्सर प्रेस क्लब के तमाम साथी एवं न्यूज़ पोर्टल एसोसिएशन के मित्र जुड़ें। इस दौरान सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि, पत्रकार उमेश पांडेय के साथ घटी घटना के समर्थन में प्रेस क्लब पूरी तरह से उनके साथ है। 

गौरतलब है कि पत्रकार के द्वारा संक्रमण काल में एंबुलेंस की उपयोगिता को लेकर सवाल उठाया जा रहा था उनका कहना था कि आज जब एंबुलेंस की आवश्यकता है तो उसे वर्कशॉप में क्यों खड़ा किया गया है पत्रकार के द्वारा खबर लिखे जाने के बाद एंबुलेंस को वर्कशॉप से तो निकाला गया लेकिन, उसे एंबुलेंस की जगह मोबाइल मेडिकल यूनिट बना दिया गया। ऐसे में जहां बक्सर से कोविड मरीजों को बड़े शहरों में जाने के लिए लोगों को मुंह मांगी कीमत देकर निजी एंबुलेंस के सहारे जाना पड़ता था वहीं, दूसरी तरफ 5 एंबुलेंस केवल नाटक करने के लिए काम आ रही हैं।

वहीं दूसरी तरफ अपना बचाव करते हुए बिहार प्रदेश कार्यसमिति सदस्य भाजपा एवं पूर्व प्रत्याशी बक्सर विधानसभा परशुराम चतुर्वेदी ने बताया कि विगत 10 मई से लगातार ईटीवी भारत के पत्रकार उमेश पांडे पर कुंठित मानसिकता से ग्रसित होकर वैश्विक महामारी कोरोना के दूसरे वेव में झूठी अनर्गल बातों को प्रदर्शित कर लोगों को उकसाने का काम, सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने एवं ब्लैकमेल करने के लिए सदर थाना बक्सर में प्राथमिकी दर्ज कराया है। 

उन्होंने बताया कि बिना प्रमाण जानबूझकर उमेश पांडे द्वारा लगातार सीरीज बनाकर सरकारी कार्यों को गलत बयानी कर झूठा बताया जा रहा था और बाधा पैदा किया जा रहा था। बेबुनियाद गलत खबर चलाने से सोशल मीडिया एवं प्रिंट मीडिया में सत्य से परे खबर प्रदर्शित हुए जिससे हमारी पार्टी, हमारे वरिष्ठ नेता आदि का छवि धूमिल हुआ है और मान सम्मान को आघात पहुंचाया गया है। जब 4 बार एक ही एम्बुलेंस को उद्घाटन करने का खबर गलत प्रमाणित हो गया तो संबंधित लोगों को 48 घंटे में जनता से झूठ बोलकर लोगों को उद्वेलित करने के लिए माफी मांगने को कहा गया, लेकिन ऐसा नही करते हुए फिर झूठी बातों को सीरीज बनाकर ब्लैकमेल करने का काम उमेश पांडे एवं अन्य द्वारा किया गया। अतः इनके संस्थान ईटीवी भारत को भी ऐसे आरोपी को तुरंत सजा देकर कार्रवाई करने के लिए नोटिस भेजा गया है ताकि चौथा स्तंभ को बदनाम करने वाले ऐसे लोगों को उचित सजा मिल सके। साथ ही कुछ लोग जो निरंतर सोशल मीडिया पर अनर्गल बात करके समाज में लोगों को भड़काने का कार्य कर रहें हैं उनपर भी एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई किया गया है और प्रसाशन उचित कदम उठा रहा है। 


क्लब के द्वारा जिला पदाधिकारी अमन समीर एवं आरक्षी अधीक्षक नीरज कुमार सिंह से यह आग्रह किया जाएगा कि वह इस पूरे मामले की गंभीरता से जांच कराते हुए दूध का दूध और पानी का पानी करते हुए मामले को निरस्त करें। साथ ही बैठक के माध्यम से केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री सांसद अश्विनी कुमार चौबे को यह चेतावनी दी गई कि, अगर उन्हें अपनी बात रखनी है तो मीडिया के सामने आकर अपनी बात रखें। किसी को मानसिक रूप से ह्रास या प्रताड़ित करके वह कोई जंग नहीं जीत लेंगे। लोकतंत्र में इस तरह की बातों की कोई जगह नहीं है। ऐसे में प्रेस क्लब इसका पुरजोर विरोध करता है। अगर वह इस तरह की आदतों में सुधार नहीं लाएंगे तो प्रेस क्लब के द्वारा उनकी खबरों का पूर्ण बहिष्कार कराया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।