काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के आई.आई. टी. परिसर में 150 खूबसूरत फूल वाले पौधों का रोपण - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 11 July 2021

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के आई.आई. टी. परिसर में 150 खूबसूरत फूल वाले पौधों का रोपण

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के आई.आई. टी. परिसर में 150 खूबसूरत फूल वाले पौधों का रोपण

वाराणसी। वन महोत्सव अभियान को जारी रखते हुए आज काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के आई.आई. टी. परिसर में 150 खूबसूरत फूल वाले पौधों का रोपण करके महामना की बगिया को हरियाली के साथ साथ प्राकृतिक खूबसूरती में इजाफा किया है।
  वृहद वृक्षारोपण के अवसर पर मुख्य अतिथि माननीय विधायक कैंट विधान सभा, श्री सौरभ श्रीवास्तव जी , विशिष्ट अतिथि पर्यावरण निदेशक श्री कालिका सिंह जी, मेटलर्जिकल एवं माइनिंग विभाग के विभागाध्यक्ष , अन्य अतिथि अनिल सिंह जी ब्रांड एंबेसडर गंगा हरितिमा, एवं रिटा. क्षेत्रीय वन अधिकारी मदन राम चौरसिया, डॉ. सूबेदार सिंह , डॉ. जी. एस.महोबिया ने टबेबिया रोजीया, सीता अशोक, प्राइड ऑफ इंडिया, मौल श्री, पिंक प्लूमेरिया आदि ऑर्नेमेंटल पौधों का रोपण किया। इस अवसर पर उपस्थित सृजन सामाजिक विकास न्यास संस्था के सदस्यगण, दोनों विभागों के प्रोफेसर, एवं स्टाफ, पचासों लोगों ने पोंगामिया, सावनी मिक्स कलर, एक्सोरा, टेकोमा आदि के पौधों का रोपण करके परिसर को हरा भरा एवं फूल वाले वृक्षों से आच्छादित किया।
  वैश्विक कोरोना महामारी ने जहां लोगों को घरों में कैद कर दिया। वहीं लॉक डाउन में प्रकृति को रीसेट बटन दबाने का अवसर दिया। पिछले चार महीनों में कोरो महामारी की दूसरी लहर से हमारी दुनियां एकदम बदल गई । 50% प्रदूषण में कमी से वातावरण धुलकर साफ हो गया है, तथा 25% कार्बन उत्सर्जन में कमी होने से प्रकृति को वरदान मिला है। एक स्वस्थ एवं मजबूत पारिस्थितिक तंत्र हमें बीमारियों से बचाता है। यहां कुछ ऐसे भी प्रकृति प्रेमी हैं, जो काशी का पर्यावरण खुशहाल समृद्ध व खूबसूरत बनाने के लिए रात दिन लगे हैं। इन्हीं में शुमार हैं, अनिल सिंह, ब्रांड एंबेसडर गंगा हरितिमा व अध्यक्ष सृजन सामाजिक विकास न्यास संस्था तथा रिटा. क्षेत्रीय वन अधिकारी मदन राम चौरसिया।
 आई.आई.टी. परिसर में वृक्षारोपण कार्य का आयोजन इन्हीं दोनों लोगों ने किया है। इसके विगत वर्षों में भी बी. एच. यू .के केमिकल इंजीनियरिंग विभाग, वनस्पति विज्ञान विभाग, प्राणी विज्ञान विभाग, वानस्पतिक उद्यान, काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर में दुर्लभ खूबसूरत फूल वाले पौधों का वृक्षारोपण करके महामना की बगिया को पुष्पित पल्लवित किया है। कोलवोलिया रेसीमोसा जो विश्व के सर्वाधिक खूबसूरत फूलों में से एक है, तथा मॉरीशस निवासी है, का बोटेनिकल गार्डन के गेट पर व काशी विश्वनाथ मंदिर में मालवीय जी की स्टेच्यू के बाएं लॉन में लगा पौध अब वृक्ष बन गया है। आगामी वर्षों में अपने खूबसूरत फूलों के खिलने पर पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनेगा। यह वृक्ष भारत के सिर्फ पांच पार्कों में ही दिखाई देता है। छठवां वाराणसी के प्रमुख पर्यटक स्थलों सारनाथ बुद्ध मंदिर परिसर, एवं बी.एच. यू. को सुशोभित कर रहा है।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।