वाराणसी : सचल मोबाइल एटीएम बैंक की सुविधा का शुभारंभ किया गया - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 17 April 2020

वाराणसी : सचल मोबाइल एटीएम बैंक की सुविधा का शुभारंभ किया गया


कैलाश सिंह विकास




कमिश्नर ने निर्बाधित बैंकिंग सेवाएं देने के उद्देश्य से बैंक ऑफ बड़ौदा एवं जिला सहकारी बैंक द्वारा सचल मोबाइल एटीएम बैंक की सुविधा का शुभारंभ किया

सचल मोबाइल एटीएम बैंन निश्चित रूप से जहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराए जाने में सहयोगी होगा- दीपक अग्रवाल

सचल मोबाइल एटीएम बैन लोगों को अपने-अपने स्थलों पर ही धनराशि प्राप्त करने में सहयोग प्रदान करेगा

       वाराणसी । कोरोना वैश्विक महामारी (कोविड-19) के संक्रमण एवं उससे बचाव के लिए लॉक डाउन के दौरान लोगो को अपने बैंक खातों में जमा धनराशि प्राप्त करने के साथ ही सरकार की तमाम योजनाओं से लाभान्वित एवं लाभार्थियों के बैंक खातों में प्राप्त धनराशि उनकी आवश्यकतानुसार यथा समय उन्हें उपलब्ध कराने के उद्देश्य से कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने शुक्रवार को सिगरा स्थित इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर में संचालित कोविड-19 वाररूम से बैंक ऑफ बड़ौदा तथा कचहरी से जिला सहकारी बैंक की सचल मोबाइल एटीएम बैंन को रवाना किया।
        कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि बैंकों, डाकघरों एवं एटीएम में लोगों द्वारा पैसा निकासी के दौरान लग रहे भीड़ के कारण उससे सोशल डिस्टेंसिंग की उल्लंघन का संभावना बना रहता है। ऐसी स्थिति में यह सचल मोबाइल एटीएम बैंन निश्चित रूप से जहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराए जाने में सहयोगी होगा, वहीं लोगों को अपने-अपने स्थलों पर ही धनराशि प्राप्त करने में भी सहयोग प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन की अवधि में जनपद के लोगों एवं बैंक के ग्राहकों को सुलभ एवं सरल रूप से बैंकिंग सेवा प्रदान करने के उद्देश्य से बैंक ऑफ बड़ौदा सचल मोबाइल एटीएम बैंक की सुविधा वर्तमान परिवेश में बैंक का बेहतरीन प्रयास है। बैंक प्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कहां की इन एटीएम वैनों दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में प्रमुख रूप से संचालित किया जाए। जहां पर बैंकिंग एवं एटीएम की सुविधाएं अपेक्षाकृत कम है। ऐसे क्षेत्र के लोगों को बैंकिंग सेवा उपलब्ध कराने से इन एटीएम बैंक की सार्थकता होगी। उन्होंने बताया कि डाकघर बैंकिंग योजना के तहत डाकिया द्वारा भी घर-घर जाकर लोगों के राष्ट्रीयकृत बैंक एवं डाकघरों की खाता में जमा धनराशि खातेदारों की आवश्यकता अनुसार उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहां कि जिन लाभार्थी के खाते में जो पैसा आया है, वह जरूरत से निकासी करें, कोई जल्दबाजी नहीं करें। उनके खाते का पैसा उन्हीं का है, वह कभी भी निकाल सकते हैं। सचल एटीएम वैनों में बीएसएनल एवं एयरटेल का कनेक्शन रखा गया है। ताकि सरवर की समस्या न होने पावे और दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में भी इंटरनेट कनेक्टिविटी बनी रहे।
        इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी मधुसूदन हुलगी, बैंक ऑफ बड़ौदा के उप महाप्रबंधक प्रतीक अग्निहोत्री, सहायक महाप्रबंधक रंजीत कुमार झा एवं उप क्षेत्रीय प्रमुख स्वपन कुमार डे प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।